satguru nanak aaja sangat paai pukaar di

सतगुरु नानक आजा संगत पई पुकारदी,
तेरे हथ विच चाभी ऐ दाता मइयां सारे संसार दी,
सतगुरु नानक आजा सतगुरु नानक आजा,
सतगुरु नानक आजा ………

जेला विच जा के दुखियां दा तू दुःख निवारिया,
तू कर्म कमाया सब ते धूबेया नु तारेया,
तू आकड़ भनी दाता बाबर सरकार दी,
तेरे हथ विच चाभी ऐ साइयां सारे संसार दी,
सतगुरु नानक आजा सतगुरु नानक आजा,
सतगुरु नानक आजा ………

ओ पंजा ते ननकाना नजरा तो दूर ने,
तेरी दीद दी खातिर बाबा अखियाँ मजबूर ने,
यमले जट दी तुंभी तेनु वाजा मारदी,
तेरे हथ विच चाभी ऐ साइयां सारे संसार दी,
सतगुरु नानक आजा सतगुरु नानक आजा,
सतगुरु नानक आजा ………

Leave a Reply