sewa te simran mainu bakshi guru meriya

सेवा ते सिमरन मैनु बख्शी गुरु मेरिया,
बख्शी गुरु मेरेया बख्शी गुरु मेरिया,
सेवा ते सिमरन मैनु …..

सब दियां तू झोलियाँ भरदा एह है तेरी वडयाई,
सब दाता मिल्दियाँ तेथो इस दे विच झूठ न काई,
तेरी एह शकती दाता मेरा मन मोह लिया,
सेवा ते सिमरन मैनु

सेवा ते सिमरन दाता विच शक्ति तेरी ऐ,
मेरे ते दया करी तू बिनती एहे मेरी ऐ,
ऑगन जो हो गए मेंथो बक्शी गुरु मेरेया,
सेवा ते सिमरन मैनु …..

मैं मंगता तेरे दर दा किरपा हूँ कर दाता,
सिमिरण दी दात बख्श के आपने लड़ ला दाता,
मेहरा दा साईं ऐ तू सुन ले गुरु मेरिया,
सेवा ते सिमरन मैनु …..

मेहरा दियां नजरा सतिगुरु जिस ते वी करदे हो,
सेवा ते सिमिरण सदका नरका चो कडदे हो,
हिरदे विच सतिगुरु वस जा किरपा कर मेरिया,
सेवा ते सिमरन मैनु

सब तेरे चोज न्यारे सेवक दर खड़ा पुकारे,
मैं दाता तेथो वारे चन्दन एह अर्ज गुजारे,
ऐसी तू किरपा करदे दाता तू मेरियां,
सेवा ते सिमरन मैनु

Leave a Reply