shankar di booti

घोट घोट के पी ले तू शंकर दी बूटी,
तू पी लै भगता पी लै शंकर दी बूटी,
रगड रगड के पी लै शंकर दी बूटी .

शंकर मेरा डमरू वाला,
ओहदे नाम दी फेरा माला,
प्रेम प्याला पी लै शंकर दी बूटी,
घोट घोट के पी ले तू शंकर दी बूटी

गल विच हार नागा दा पाया कुल दुनिया नु झूमन लाया,
टूटीया तकदीरा सी लै शंकर दी बूटी,
घोट घोट के पी ले तू शंकर दी बूटी

नूर मेह्लियाँ बूटी रगड़े पी के मूक जांदे सब झगड़े,
विच मस्ती दे जी लै शंकर दी बूटी,
घोट घोट के पी ले तू शंकर दी बूटी

Leave a Reply