shyam teri baansuri bajane lagi

श्याम तेरी बांसुरी बजने लगी,
सारी सारी रात मैं तो जगने लगी,
श्याम तेरी बांसुरी बजने लगी,

बांसुरी भजा के मेरा मन हर लिया,
तेरी बांसुरी ने कैसा जादू किया ,
यमुना किनारे मैं तो आ गई सांवरियां,
श्याम तेरी बांसुरी बजने लगी,

दुनिया की रीत मैंने सारी तोड़ दी,
तेरे संग श्याम मैंने प्रीत जोड़ ली तेरे नाम की चुनरिया ओड ली,
श्याम तेरी बांसुरी बजने लगी,

यमुना किनारे पे श्याम आ गया
आँखों में मेरे सररूर छा गया,
श्याम तेरी बांसुरी बजने लगी,

Leave a Reply