tere charno me sir ko jhukati rahu

तेरे चरणों में सिर को झुकाती रहु,
तेरे गुण गान भोले मैं गाती रहु,
ॐ नमः शिवाये,ॐ नमः शिवाये,

तेरे सिर पे विराजे है गंगा,
भोले गर्दन लपेटे बुजंगा,
बस्मी है अंग अंग रहे गोरा के संग,
ऐसी अध्भुत छवि को लखाती रहु,
ॐ नमः शिवाये,ॐ नमः शिवाये,

तेरे चरणों में शीश को झुकाती रहु,
तेरे गुण गान मैं भोले गाती रहु,
ॐ नमः शिवाये,ॐ नमः शिवाये,

मेरे भोले है सब से निराले देखो पीते है वो विष के प्याले,
पूरी कर देना आस मेरे दिल में हो वास संग हर पल तुम्ही को पाती रहु,
ॐ नमः शिवाये,ॐ नमः शिवाये,

आके चरणों में बैठा विसरियाँ,
तेरे हाथो में रश्मि की नइयाँ,
तू है इस लोक मे तू ही परलोक में तेरी भगतो को महिमा सुनती रहु,
ॐ नमः शिवाये ॐ नमः शिवाये,

This Post Has 2 Comments

  1. Pingback: aao aao ne mere khatu vale jagrata tera hon lagaya – bhakti.lyrics-in-hindi.com

  2. Pingback: lgaai ja suta bhole ji ke naam ka lgaai ja – bhakti.lyrics-in-hindi.com

Leave a Reply