tere naam se kanhiya chalti hai meri naiya

तेरा नाम से कन्हियाँ चलती है मेरी नैया
ना माझी की जरूरत जब श्याम है खिवैया

कैसी भी हो मुसीबत विस्वाश है तेरा
गब्राऊगा भी क्यों मैं जब साथ है तेरा
तेरी ही आस मुझको दुनिया के ओ रचैया
ना माझी की जरूरत जब श्याम है खिवैया

वो होंगे और कान्हा मतलब से याद करते
लब पे है नाम तेरा मन में तुम्ही हो बसते
कुछ भी न देना मुझको बस तेरी रहे छईया
ना माझी की जरूरत जब श्याम है खिवैया

अब तक दिया है दाता आगे भी देते रहना
जो बन गया है तेरा उस के गमो को हरना
राजू को जो मिला है सब तेरा है कन्हियाँ
ना माझी की जरूरत जब श्याम है खिवैया

Leave a Reply