teri jai ho eh balrangbali

नाम जिसने लिया उसको हर सुख दियां,
उसके सिर से मुसीबत टली
तेरी है हो ऐ बजरंगबली
बजरंग बलि हो बजरंग बलि कोई तुमसा नही है महाबली,

गर्दिश में तू आके सब को संभाले,
तेरे खेल सारे जगत से निराले,
सारी दुनिया की करते भली,
तेरी है हो ऐ बजरंगबली

अंजनी की लाल हम सदा तुम को पूजे,
तुम बिन सहारा कोई न सूजे,
मेरे मन की खिलादों कली,
तेरी है हो ऐ बजरंगबली

कही रूप बाला जी का धर के आये,
शक्ति के पोतक कही दर दिखाए,
कर दी लंका में जा खलबली,
तेरी है हो ऐ बजरंगबली

केवल विन्याक भी सेवक भी तुम्हारा,
रणजीत राजा भी सेवक तुम्हारा,
चचमका दो मेरी भी किस्मत का तारा,
आसरे तेरे नैया चली,
तेरी है हो ऐ बजरंगबली

Leave a Reply