Top 10 Janmashtami bhajan Lyrics

Top 10 Janmashtami bhajan lyrics in hindi | जन्माष्टमी पर्व पर कान्हा का जन्मदिन

थारी मुरली मनड़ो मोयो कान्हा और बजाओ थारी मुरली न।

टेर : थारी मुरली मनड़ो मोयो कान्हा और बजाओ थारी मुरली न।
आ मुरली मीरा बाई ने मोही राणे न छोड़ मीरां थारे संग होई
मेड़तियो छिटकायो कान्हा।
आ मुरली राधा प्यारी ने मोही बृज में गोपी लीला होई
मधुबन रास रचायो कान्हा।
आ मुरली कर्मा बाई न मोही मंदिर में थारी बाटा जोही
जीण घर खीचड़ खायो कान्हा।
जद म्हारे मरुधर मेवला होसी धरती रो धन निर्भय सोसी
मीठा मीठा बोले दादर मोर कान्हा।
आखड़लिया फरके म्हारी आवण जावण गांया रे ग्वाले रो रूप पिछावण
म्हारे धोरां न स्वर्ग बनाओ कान्हा।
म्हारे मन हरड़ कोड की बातां याद करा थाने हिचकी आतां
म्हारे मनडे में धीर बंधाओ कान्हा।
राम मंदिर में एक बारी आओ निज भगतों को दर्श दिखाओ
राधा जी न संग में ल्याओ कान्हा।

कान्हा रे कान्हा तुझे किस ने है जाना

कान्हा रे कान्हा तुझे किस ने है जाना
इक मीरा ने जाना तुझे राधा ने जाना
कान्हा रे कान्हा तुझे किस ने है जाना

तूने गैयाँ चराई तूने माखन चुराया
तूने जिसका भी खाया उस का भेभव बडाया
ये सुदामा ने देखा जमाने ने जाना
कान्हा रे कान्हा तुझे किस ने है जाना

तूने रास रचाई महारास रचाए
तूने भक्ति के ऐसे कुछ रंग चडाये
सब को पागल किया तूने अपना दीवाना
कान्हा रे कान्हा तुझे किस ने है जाना

तेरा बचपन निराला तेरा जोबन निराला
कभी नटखट रहा तू कभी बांका निराला
तेरी मथुरा दीवानी तेरा गोकुल दीवाना
कान्हा रे कान्हा तुझे किस ने है जाना

https://youtube.com/watch?v=ZuZQoMI0N8A%3Ffeature%3Doembed

मेरी लगी श्याम संग प्रीत

मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने -2
मुझे मिल गया मन का मीत ये दुनिया क्या जाने -2
क्या जाने कोई क्या जाने -2
मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने -2
मुझे मिल गया मन का मीत ये दुनिया क्या जाने -2

छवि लगी मन श्याम की जब से -2
भई बावरी मैं तो तब से -2
बाँधी प्रेम की डोर मोहन से -2
नाता तोड़ा मैंने जग से -2
ये कैसी पागल प्रीत ये दुनिया क्या जाने -2
ये कैसी निगोड़ी प्रीत ये दुनिया क्या जाने -2
क्या जाने कोई क्या जाने -2
मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने -2
मुझे मिल गया मन का मीत ये दुनिया क्या जाने -2

मोहन की सुन्दर सूरतिया -2
मन में बस गयी मोहनी मूरतिया -2
जब से ओढ़ी शाम चुनरिया -2
लोग कहे मैं भई बावरिया -2
मैंने छोड़ी जग की रीत ये दुनिया क्या जाने -2
क्या जाने कोई क्या जाने -2
मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने -2
मुझे मिल गया मन का मीत ये दुनिया क्या जाने -2

हर दम अब तो रहूँ मस्तानी -2
लोक लाज दीनी बिसरानी -2
रूप राशि अंग अंग समानी -2
हे रत हे रत रहूँ दीवानी -2
मई तो गाऊँ ख़ुशी के गीत ये दुनिया क्या जाने -2
क्या जाने कोई क्या जाने -2
मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने -2
मुझे मिल गया मन का मीत ये दुनिया क्या जाने -2

मोहन ने ऐसी बंसी बजायी -2
सब ने अपनी सुध बिसरायी -2
गोप गोपिया भागी आई -2
लोक लाज कुछ काम न आई -2
फिर बाज उठा संगीत ये दुनिया क्या जाने -2
क्या जाने कोई क्या जाने -2
मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने -2
मुझे मिल गया मन का मीत ये दुनिया क्या जाने -2

भूल गयी कही आना जाना -2
जग सारा लागे बेगाना -2
अब तो केवल शाम सुहाना -2
रूठ जाये तो उन्हें मनाना -2
अब होगी प्यार की जीत ये दुनिया क्या जाने -2
क्या जाने कोई क्या जाने -2
मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने -2
मुझे मिल गया मन का मीत ये दुनिया क्या जाने -2

हम प्रेम नगर की बंजारन -2
जप तप और साधन क्या जाने -2
हम शाम के नाम की दीवानी -2
नित नेम के बंधन क्या जाने -2
हम बृज की भोली गंवारनिया -2
ब्रह्म ज्ञान की उलझन क्या जाने -2
ये प्रेम की बाते है उद्धव -2
कोई क्या समझे कोई क्या जाने -2
मेरे और मोहन की बातें -2
या मै जानू या वो जाने -2
क्या जाने कोई क्या जाने -2
मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने -2
मुझे मिल गया मन का मीत ये दुनिया क्या जाने -2

शाम तन शाम मन शाम हैं हमारो धन -2
आठो याम पूछो हमें शाम ही सो काम हैं -2
शाम हिये शाम पिए शाम बिन नाही जिए -2
आंधें की सी लाकडी आधार शाम नाम है -2
शाम गति शाम मति शाम ही हैं प्राणपति -2
शाम सुख दायी सो भलाई आठो याम हैं -2
उद्धव तुम भये बवरे पाथी ले के आये दोड़े -2
हम योग कहा राखे यहाँ रोम रोम शाम है -2
क्या जाने कोई क्या जाने -2
मेरी लगी श्याम संग प्रीत ये दुनिया क्या जाने -2
मुझे मिल गया मन का मीत ये दुनिया क्या जाने -2

https://youtube.com/watch?v=Jyccy19gDpo%3Ffeature%3Doembed

कभी रूठना ना मुझसे तू श्याम सांवरे

कभी रूठना ना मुझसे तू श्याम सांवरे
मेरी ज़िन्दगी है अब तेरे नाम सांवरे
कभी रूठना ना मुझसे तू श्याम सांवरे
मेरी ज़िन्दगी है अब तेरे नाम सांवरे
मेरे सांवरे सवेरा तेरे नाम से
तेरे नाम से ही ज़िन्दगी की श्याम सांवरे
कभी रूठना ना मुझसे तू श्याम सांवरे
मेरी ज़िन्दगी है अब तेरे नाम सांवरे

चिंतन हो सदा इस मन में तेरा
चरणों में तेरे मेरा ध्यान रहे
चाहे दुःख में रहू चाहे सुख में रहु
होठो पे सदा तेरा नाम रहे
तेरे नाम से ही मेरी पहचान है
तेरी सेवा में ही कल्याण है
मेरा रोम रोम तेरा करजई है
तेरे कितने गिनाऊ अहसान सांवरे
कभी रूठना ना मुझसे तू श्याम सांवरे
मेरी ज़िन्दगी है अब तेरे नाम सांवरे

दिल तुमसे लगाना सीखा है
तुमसे ही सीखा याराना
जीवन को सावरा है तुमने
बदले में में दू क्या नज़राना
मैंने दिल हारा ये भी तेरी प्रीत है
मेरी हार में भी श्याम मेरी जीत है
बस दिल की है यही है एक आरज़ू
तुझे दिल का मेहमान बना लू सांवरे
कभी रूठना ना मुझसे तू श्याम सांवरे
मेरी ज़िन्दगी है अब तेरे नाम सांवरे

दुनिया के मैं अब अवगुण क्या देखु
मेरे अवगुण कई हज़ार प्रभु
तुम अवगुण मेरे सब ढक़ लोगे
इतना है मुझे ऐतबार प्रभु
मेरे अवगुणो से नज़रो को फेर लो
अपनी बाहो में प्रभु जी मुझे घेर लो
ऐसी कृपा करो ना इस दास पे
रहे पापो का ना कोई भी निशान सांवरे
कभी रूठना ना मुझसे तू श्याम सांवरे
मेरी ज़िन्दगी है अब तेरे नाम सांवरे

मेरे सांवरे सवेरा तेरे नाम से
तेरे नाम से ही ज़िन्दगी की श्याम सांवरे
कभी रूठना ना मुझसे तू श्याम सांवरे
मेरी ज़िन्दगी है अब तेरे नाम सांवरे

https://youtube.com/watch?v=3BaHTCEH9AE%3Ffeature%3Doembed

मेरा आपकी कृपा से सब काम हो रहा है

मेरा आपकी दया से सब काम हो रहा है।
करते हो तुम कन्हिया मेरा नाम हो रहा है॥

पतवार के बिना ही मेरी नाव चल रही है।
हैरान है ज़माना मंजिल भी मिल रही है।
करता नहीं मैं कुछ भी, सब काम हो रहा है॥

तुम साथ हो जो मेरे, किस चीज की कमी है।
किसी और चीज की अब दरकार ही नहीं है।
तेरे साथ से गुलाम अब गुलफाम हो रहा है॥

मैं तो नहीं हूँ काबिल, तेरा पार कैसे पाऊं।
टूटी हुयी वाणी से गुणगान कैसे गाऊं।
तेरी प्रेरणा से ही सब यह कमाल हो रहा हैं॥

https://youtube.com/watch?v=PuoU1klkh94%3Ffeature%3Doembed

जगत के रंग क्या देखूं तेरा दीदार काफी है

जगत के रंग क्या देखूं तेरा दीदार काफी है।
क्यों भटकूँ गैरों के दर पे तेरा दरबार काफी है॥

नहीं चाहिए ये दुनियां के निराले रंग ढंग मुझको,
निराले रंग ढंग मुझको
चली जाऊँ मैं वृंदावन
चली जाऊँ मैं वृंदावन तेरा श्रृंगार काफी है
जगत के रंग क्या देखूं तेरा दीदार काफी है

जगत के साज बाजों से हुए हैं कान अब बहरे
हुए हैं कान अब बहरे
कहाँ जाके सुनूँ बंशी
कहाँ जाके सुनूँ बंशी मधुर वो तान काफी है
जगत के रंग क्या देखूं तेरा दीदार काफी है

जगत के रिश्तेदारों ने बिछाया जाल माया का
बिछाया जाल माया का
तेरे भक्तों से हो प्रीति
तेरे भक्तों से हो प्रीति श्याम परिवार काफी है
जगत के रंग क्या देखूं तेरा दीदार काफी है

जगत की झूटी रौनक से हैं आँखें भर गयी मेरी
हैं आँखें भर गयी मेरी
चले आओ मेरे मोहन
चले आओ मेरे मोहन दरश की प्यास काफी है
जगत के रंग क्या देखूं तेरा दीदार काफी है
क्यों भटकूँ गैरों के दर पे तेरा दरबार काफी है

https://youtube.com/watch?v=ejqeyCTnUBo%3Ffeature%3Doembed

भक्त मनावे श्याम जन्मदिन, होता उत्सव भारी से,

भक्त मनावे श्याम जन्मदिन,
होता उत्सव भारी से,
भेजेगा मेरा श्याम बुलावा,
मेरी पक्की यारी से।।

मेरा जब से मेल हुआ है,
ये जगत लगे केवल सपना,
पहले था फिरा भटकता,
अब जग में नाम हुआ अपना,
जब श्याम संवारे भाग्य मेरा,
तो फिर कैसी लाचारी से,
भेजेगा मेरा श्याम बुलावा,
मेरी पक्की यारी से।।

गगंगाजल से नहलाओ,
और तिलक लगाओ चंदन का,
रत्न जड़ित बागा हो,
मेरे श्याम मौरवी नंदन का,
प्यारा लागे रूप श्याम का,
भेजेगा मेरा श्याम बुलावा,
मेरी पक्की यारी से।।

जब डेट फिक्स सब होगी,
और फिट होंगे प्रोग्राम सभी,
कैसे होये सजावट,
और कैसे सिंगार सभी,
देख सजावट मंडप की,
फिर सुध भूले नर नारी से,
भेजेगा मेरा श्याम बुलावा
मेरी पक्की यारी से।।

एक सुंदर केक मँगाओ,
फिर कर लो सारी तैयारी रे,
जब केक सांवरा काटे,
तब खुश हो संगत सारी रे,
‘माही’ नाचे झूम झूम के,
तुम गीत खुशी के गाओ रे,
भेजेगा मेरा श्याम बुलावा
मेरी पक्की यारी से।।

भक्त मनावे श्याम जनमदिन,
होता उत्सव भारी से,
भेजेगा मेरा श्याम बुलावा,
मेरी पक्की यारी से।।

मिल कर सब कोई गाना… आया जन्मदिन

मिलकर सब कोई गाना, आया जन्मदिन नंदलाला का,
मिलकर सब कोई गाना, हैप्पी बर्थडे कान्हाँ,
माखन मिश्री गोपाला को, मिल कर भोग लगाना,
हैप्पी बर्थडे कान्हाँ, आया जन्म दिन नंद लाला का,
मिल कर सब कोई गाना, हैप्पी बर्थडे कान्हाँ।।

आधी आधी रात को, जन्मा कन्हैया,
खुशियाँ मनाओं सब, नाचो ता-ता थैया,
जय कन्हैयाँ लाल की, सब जयकारा लगाना,
हैप्पी बर्थडे कान्हाँ, आया जन्म दिन नंद लाला का,
मिल कर सब कोई गाना, हैप्पी बर्थडे कान्हाँ।।

जन्माष्टमी का, आया है मौक़ा,
बोलो बोलो कान्हा को, क्या दोगे तोहफ़ा,
“सौरभ मधुकर” के संग, मिलकर भजन सुनाना,
हैप्पी बर्थडे कान्हाँ, आया जन्मदिन नंदलाला का,
मिलकर सब कोई गाना, हैप्पी बर्थडे कान्हाँ।।

आया जन्म दिन नंद लाला का, मिल कर सब कोई गाना,
हैप्पी बर्थडे कान्हाँ, माखन मिश्री गोपाला को,
मिल कर भोग लगाना, हैप्पी बर्थडे कान्हाँ।।
आया जन्म दिन नंद लाला का, मिल कर सब……

https://youtube.com/watch?v=HprLVAQu_R8%3Ffeature%3Doembed

श्याम तेरी बन्सी पुकारे राधा नाम

श्याम तेरी बन्सी पुकारे राधा नाम
लोग करे मीरा को यूँ ही बदनाम

साँवरे की बन्सी को बजने से काम
राधा का भी श्याम वो तो मीरा का भी श्याम

जमना की लहरें बन्सीबट की छैया
किसका नहीं है कहो कृष्ण कन्हैया

श्याम का दीवाना तो सारा ब्रिजधाम
लोग करे मीरा को यूँ ही बदनाम

कोन जाने बाँसुरिया किसको बुलाए
जिसके मन भाए वो उसीके गुन गाए

कोन नहीं बन्सी की धुन का गुलाम
राधा का भी श्याम वो तो मीरा का भी श्याम

https://youtube.com/watch?v=D9zhvsmDckk%3Ffeature%3Doembed

तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से आयी हूँ।

तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से आयी हूँ।
मैं बरसाने से आयी हूँ, मैं वृषभानु की जाई हूँ॥
अरे रसिया, ओ मन वासिया, मैं इतनी दूर से आयी हूँ॥

सुना है श्याम मनमोहन, के माखन खूब चुराते हो।
उन्हें माखन खिलने को मैं मटकी साथ लायी हूँ॥

सुना है श्याम मनमोहन, के गौएँ खूब चरते हो।
तेरे गौएँ चराने को मैं ग्वाले साथ लायी हूँ॥

सुना है श्याम मनमोहन, के कृपा खूब करते हो।
तेरी कृपा मैं पाने को तेरे दरबार आयी हूँ॥

krishan bhajan, Sourabh Madhukar Kumar Vijay, Shri Khatu Shyam Bhajan Aarti Mukharjee, Jaspal Singh, Shri Krishna Bhajan krishan bhajan, Suraj Narayan Swami Krishan Bhajan Jaya Kishori ji, Shri Khatu Shyam Bhajan, Shri Krishna Bhajan Shri Krishna Bhajan, Vinod Ji Agarwal Khatu Shyam Bhajan, Krishan Bhajan
Krishan Bhajan Shri Krishna Bhajan, Vinod Ji Agarwal Khatu Shyam Bhajan, Krishan Bhajan
Khatu Shyam, Sanjay Mittal krishan bhajan krishan bhajan

Leave a Reply