uchiyan mandiraa valiye

उचेया मंदिरा वालिये मैं कहन्दी हां,
रख चरना दे कोल मैं तरले पाउंदी हा,

बगियाँ शेरा वालिये हथ थेला ऐ,
भवन तेरे ते दाती लगियां मेला ऐ,

उचियाँ मंदिरा वालिये हथ चांदी ऐ,
दे दर्शन आंबे गोरी जींद पाई जांदी ऐ,

बगियाँ शेरा वालिये हथ थेला ऐ,
सब दी आस पूजावे माँ झंडे वाली ऐ,

बगियाँ शेरा वालिये हथ थेला ऐ,
ओह बेठी माँ मेरी आदि भावनी ऐ,

सुहे चोले वालिये हथ केला ऐ,
हूँ आ के दर्श दिखा अमृत वेला ऐ,

सुहे वे वाने वालेया कुछ मंग लै तू,
चोला जीवन माँ दे रंग विच रंग लै तू,

सुहे वे वाने वालेया माँ काली ऐ,
माँ एहो वशनो शक्ति खंडे वाली ऐ

Leave a Reply