राधा रमण मेरे #With lyrics || कभी भूलू ना #bhajan lyrics #bhajan ♥♥

राधा रमण मेरे #With lyrics || कभी भूलू ना #bhajan lyrics #bhajan ♥♥ Gyan bhakti Aur Satsang


राधा रमण मेरे #With lyrics || कभी भूलू ना #bhajan lyrics #bhajan ♥♥

#राधारमणमेरे
#कभीभूलूना
#bhajanlyrics
#bhajan
#krishnabhajan
#Rambhajan
bhajan lyrics कभी भूलू ना कभी भूलू ना कभी भूलू ना कभी भूलू ना कभी भूलू ना याद तुम्हारी रटू तेरा नाम में सांझ सवेरे राधा रमण मेरे राधा रमण मेरे राधा रमण मेरे राधा रमण मेरे सिर मोर मुकुट कानन कुंडल दो चंचल नैन कटार सिर मोर मुकुट कानन कुंडल दो चंचल नैन

कटार मुख कमल पे भवरे बने केश लहराए कारे कारे हो छव प्रकट मम हृदय में करो दिल के दूर अंधेरे राधा रमण मेरे राधा रमण मेरे राधा रमण मेरे राधा रमण मेरे गल सोहे रही मोतीन माला अधरों पर मुरली सजाए ल सोहे रही मोतीन माला अधरों पर मुरली

सजाए कर घायल टेढ़ी चितवन से मुस्कान से चैन चुराए हो भक्तों के सरताज किंतु राधा रानी के चेरे राधा रमण मेरे राधा धा रमण मेरे राधा रमण मेरे राधा रमण मेरे अपने आचल की छाया में करुणा में मुझे छिपा लो अपने आचल की छाया में करुणा

में मुझे छिपा लो मैं जन्म जन्म से भटका हूं हे नाथ मुझे अपना लो प्राणेश रमण तुम संग मेरे है जन्म जन्म के फेरे राधा रमण मेरे राधा रमण मेरे राधा रमण मेरे राधा रमण मेरे कभी भूलू ना कभी भूलू ना कभी भूलू ना याद तुम्हारी रटू तेरा नाम में सांझ सवेरे राधा

रमण मेरे राधा रमण मेरे राधा रमण मेरे #रध #रमण #मर #lyrics #कभ #भल #न #bhajan #lyrics #bhajan
Gyan bhakti Aur Satsang More From Bhakti.Lyrics-in-Hindi.com

Leave a Comment