Non Stop Shri Ram Bhajans – Ram Aayenge To Angana Sajaungi | Bhakti Song | Ram Songs | Ram Bhajans

Non Stop Shri Ram Bhajans – Ram Aayenge To Angana Sajaungi | Bhakti Song | Ram Songs | Ram Bhajans Bhakti Dhun


Non Stop Shri Ram Bhajans – Ram Aayenge To Angana Sajaungi | Bhakti Song | Ram Songs | Ram Bhajans

#ramaayenge #rambhajan #ramjikabhajan
#awadhmeramaayehai #rambhajan

ram aayenge to angana sajaungi,ram bhajan,bhajan songs,bhakti songs,ram aayenge,bhajan,bhajan songs hindi,bhakti bhajan,bhajan song,ram ji ke bhajan,ram aayenge angana sajaungi,ram aaenge to angana sajaungi,ram bhajans,new bhajan,shri ram bhajans,ram bhajan 2024,hindi bhajan,shri ram bhajan,lord ram bhajan,2024 ram bhajan,ram aayenge bhajan vishal mishra,ram aayenge bhajan lyrics,ram ayenge bhajan,top ram bhajans,bhajan ram,raam bhajan
bhajan bhajan [प्रशंसा] [संगीत] मेरी झोपड़ी के भाग आज भुल जाएंगे राम आएंगे मेरे झोपड़ी के भाग आज खुल जाएंगे राम आएंगे राम आएंगे आएंगे रा राम आएंगे राम आएंगे आएंगे राम आएंगे मेरी झोपड़ी के भाग आज खुल जाएंगे राम आएंगे मेरी झोपड़ी के भाग आज खुल जाएंगे राम आएंगे [संगीत] राम आएंगे तो अंगना

सजाऊंगी राम आएंगे तो अंधना सजाऊंगी दीप जलो के दीवा मैं मनाऊंगी दीप जला के दिवाली मैं मनाऊंगी मेरे जन्मों के सारे पाप मिट जाएंगे राम आएंगे मेरी झोपड़ी के भाग आज खुल जाएंगे राम आएंगे मेरी झोपड़ी के भाग्य आज खुले जाए राम [संगीत] आएंगे राम झूलेंगे तो पल ना झुलाऊंगा

रा झुले के तो पलना लाऊंगी मीठे मीठे मैं भजन सुनाऊंगा मेरी जिंदगी के सारे दुख मिट जाएंगे रामा आएंगे मेरी झोपड़ी के भाग आज चा जाएंगे राम आएंगे मेरी झोपड़ी के भागस ले जाएंगे राम [संगीत] [संगीत] आएंगे [संगीत] मैं तो रोची रोची भोंग लगाऊंगी मैं तो रुचि रुचि भोग

लगाऊंगी माखन में श्री मैं राम को खिलाऊंगी माखन में श्री मैं राम को खिलाऊंगी प्यारी प्यारी राधे प्यारे राम संग आएंगे राम आएंगे ी झोपड़ी के भाग आज खुल जाएंगे राम आएंगे मेरी झोपड़ी के भाग आज भूले जाएंगे राम [संगीत] आएंगे [संगीत] मेरा जन्म सफल हो जाएगा मेरा जन्म सफल हो

जाएगा मन झूमेगा तन गीत गाएगा ने झूमेगा और मन गीत गाएगा राम सुंद मेरे किस्मत चमकाए राम आएंगे मेरी झोपड़ी के भाग आज जाग जाएंगे राम आएंगे मेरी झोपड़ी के भाग आज खुले जाएंगे राम आएंगे [संगीत] [प्रशंसा] [संगीत] [संगीत] राम नाम के साबुन से जो मन का मैल

छुड़ाए राम नाम के साबुन से जो मन का मैल छुड़ाए निर्मल मन के दर्पण में वो राम का दर पाएगा निर्मल मन के दर्पण में वो राम का दर्शन पाएगा राम नाम के साबुन [संगीत] [संगीत] से रोम रोम में राम है तेरे वो तो तुझसे दूर

नहीं रोम रोम में राम है तेरे वो तो तुझसे दूर नहीं देख सके ना आंखें उनको उन आंखों में नूर नहीं देख सके ना आंखें उनको उन आंखों में नूर नहीं देखेगा तू मन मंदिर में देखेगा तू मन मंदिर में ज्ञान की ज्योति जलाए निर्मल मन की दर्पण में वो राम का

दर्शन पाएगा निर्मल मन के दर्पण में वो राम का दर्शन पाएगा राम नाम के साबुन से यह शरीर अभिमान है जिसका प्रभु कृपा से पाया है यह शरीर अभिमान है जिसका प्रभु कृपा से पाया है झूठे जग के बंधन में तूने इसको क्यों बिसरा है झूठे जग के बंधन में

तूने इसको क्यों विसराया है राम नाम का महामंत्र ये राम नाम का महामंत्र ये साथ तुम्हारे जाएगा निर्मल मन के दर्पण में वो राम कद दर्शन पाएगा निर्मल मन के दर्पण में वो राम का दर्शन पाएगा राम नाम के साबुन [संगीत] [संगीत] से झूठ कपट निंदा को त्यागो हर एक से तुम

प्यार करो झूठ कपट निंदा को त्यागो हर एक से तुम प्यार करो घर आए मेहमान की सेवा से ना तुम इंकार करो घर आए मेहमान की सेवा से ना तुम इंकार करो पता नहीं नहीं किस रूप में आकर पता नहीं किस रूप में आकर नारायण मिल

जाएगा निर्मल मन के दर्पण में वो राम का दर्शन पाएगा निर्मल मन के दर्पण में वो राम का दर्शन पाएगा राम नाम के साबुन से [संगीत] निष्फल सब भक्ति है तेरी मन में जब विश्वास नहीं निफल सब भक्ति है तेरे मन में जब विश्वास नहीं मंजिल क्या पाएगा तू

जब दीपक में प्रकाश नहीं मंजिल क्या पाएगा तू जब दीपक में प्रकाश नहीं राम नाम की लौ जगाह राम नाम की लौ जगा भव सागर से तर जाएगा निर्मल मन के दर्पण में वो राम का दर्शन पाएगा निर्मल मन के दर्पण में वो राम का दर्शन पाएगा राम नाम के साबुन [संगीत] [संगीत]

से दौलत का अभिमान है झूठा ये तो आनी जानी है भारत का अभिमान है झूठा ये तो आनी जानी है राजा रंक अनेक हुए कितनों की सुनी कहानी है राजा रम का अनेक हुए कितनों की सुनी कहानी है नाम के महामंत्र ही राम नाम के महामंत्र ही साथ तुम्हारे

जाएगा निर्मल मन के दर्पण में वो राम का दर्शन पाएगा निर्मल मन के दर्पण में वो राम का दर्शन पाएगा राम नाम के साबुन से जरा देर ठहरो [संगीत] राम जरा देर ठहरो राम जरा देर ठहरो राम तमन्ना यही है अभी हमने जी भर के देखा नहीं है अभी

हमने जी भर के देखा नहीं है जरा देर ठहरो रो तमन्ना यही है अभी हमने जी भर के देखा नहीं है अभी हमने जी भर के देखा नहीं [संगीत] है कैसी घड़ी आज जीवन की आई कैसी घड़ी आज जीवन की आई अपने ही प्राणों की करते विदाई अपने ही प्राणों के करते

विदाई अब ये अयोध्या अब ये अयोध्या हमारी नहीं है अभी हमने जी भर के देखा नहीं है अभी हमने जी भर के देखा नहीं [संगीत] है [संगीत] माता कौशल्या के आंखों के तारे माता फशल के आंखों के तारे दशरथ जी के राज दुला दशरथ जी के राज

दुलारे कभी ये अयोध्या को कभी ये अयोध्या को भुलाना नहीं है अभी हमने जी भर के देखा नहीं है अभी हमने जी भर के देखा नहीं [संगीत] है जाओ प्रभु अब समय हो रहा है जाओ प्रभु अब समय हो रहा है घरों का उजाला भी कम हो

रहा है घरों का उजाला भी कम हो रहा है अंधेरी निशा का अंधेरी निशा का ठिकाना नहीं है अभी हमने जी भर के देखा नहीं है अभी हमने जी भर के देखा नहीं है सजा दो घर को गुलशन सा अध में राम आए हैं सजा दो घर को गुलशन सा अध में राम

आए अवध में राम आए हैं मेरे सरकार आए हैं अवध में राम आए हैं मेरे सरकार आए हैं मेरे सरकार आए हैं ल कुटिया भी दुलहन सी लगे कुटिया भी दुलहन स अवध में राम आए हैं सजा दो घर को दर्शन सा अवध मेरे राम आए [संगीत] पखार इनके चरणों को बहाकर

प्रेम की गंगा पखार इनके चरणों को बहाकर प्रेम की गंगा बकारो इनके चरणों को बहाकर प्रेम की गंगा पखार इनके चरणों को बहा कर प्रेम की गंगा बहा कर प्रेम की गंगा बिछा दो अपनी पलको को बिछा दो अपनी पलकों को अध में राम आए हैं सजा दो घर को बर्शन

अवध में राम आए हैं तेरी आहट से है वाकिफ नहीं चेहरे की है दरखा तेरी आ हट से है वाकिफ नहीं चेह तेरे की है दरकार बिना देखे ही कह देंगे लो आ गए हैं मेरे सरकार बिना देखे ही कह देंगे लो आ दे है मेरे सरकार लो आ गए हैं

मेरे सरकार दुआओं का हुआ है असर दुआओं का हुआ है असर अवध में राम आए हैं सजा दो घर को दर्शन सा अवध में राम आए हैं सजा दो घर दो दर्शन सा अवध में राम आई [संगीत] [प्रशंसा] [संगीत] है हे राम श्री राम प्रभु राम श्री राम

रामचंद्र कृपालु भजमन हरण भव भय दारुण नव कंज लोचन कंज मुख कर कंज पद [संगीत] [संगीत] कंजारभाट हे राम श्री राम प्रभु राम श्री राम कंदर्प अगणित अमित छवि नवनी रद सुंदरम पट पीत मान तड़ित रुचि सुचि नोम जनक सुता बम श्री रामचंद्र कृपालु भजमन हरण भव भय दारुण नव

कंज लोचन कंज मुख कर कंज पद कंजन हे राम श्री राम प्रभु राम श्री [संगीत] राम भज दीन बंधु दिनेश दानव दैद वंश निकंदन रघुनंद आनंद कंद कौशल चंद दशरथ नंदनम श्री रामचंद कृपालु भजमन हरण भव भय दारुण नव कंज लोचन कंज मुख कर कंज पद

कंज हे राम श्री राम प्रभु राम श्री [संगीत] राम सिर मुकुट कुंडल तिलक चारु दारु अंग विभूषण ह जानु भुज सर चाप धर संग्राम जित र दूषण श्री रामचंद्र कृपालु भजमन हरण भव भय दारुण नव कंज लोचन कंज मुख कर कंज पद कंजाम हे राम श्री राम प्रभु राम श्री [संगीत]

राम किवद के तुलसीदास शंकर शेष मुनि मन रंजन मम हृदय कंज निवास कुरु का माद खल दल गंजन श्री रामचंद्र पालु भजमन हरण भव भय दारुण नव तंज लोचन ंज मुख कर कंज पद कंजाम हे राम श्री राम प्रभु राम श्री राम [संगीत] मन जाहि राछ मिल हि सोवर सहज सुंदर

सावर करुणा निधान सुजान शल सनेह जानत रावर श्री रामचंद कृपालु भजमन हरण भव भयदा रुण नव कंज लोचन कंज मुख कर कंज पद कंज हे राम श्री राम प्रभु राम श्री [संगीत] राम [संगीत] यही भात गौर आशीष सुन सिह सहित हि अ हर्षित अली तुलसी भवानी ही पूजी पुनि पुनि

मुदित मन मंदिर चली श्री रामचंद्र कृपालु भजमन हरण भव भय दारुण नव कंज लोचन कंज सुख कर कंज पद कंज मम हे राम श्री राम प्रभु राम श्री राम हे राम श्री राम प्रभु राम श्री राम [संगीत] [प्रशंसा] [संगीत] तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे तेरी मंद मंद

मुस्कनिया पे तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव [संगीत] जी [संगीत] [प्रशंसा] तेरे नैन बड़े कजरारे लगते हैं प्यारे प्यारे तेरे नैन बड़े

कजरारे लगते हैं प्यारे प्यारे तेरे नैन बड़े कजरारे लगते हैं प्यारे प्यारे रे नैन बड़े कजरारे लगते हैं प्यारे प्यारे तेरी मधुर मधुर मुस्कनिया पे तेरी मधुर मधुर मुस्कनिया पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी तेरी मंद मंद मुस्कनिया के बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी तेरी मंद मंद मुस्कनिया

पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव [संगीत] जी तेरे बाल ब घुंघराले बादल हो कारे कारे रे बाल बड़े घुंघराले बादल हो कारे का तेरे बाल बड़े घुंघराले बादल हो कारे कारे बाल कड़े राले बादल हो कारे का तेरे पाव की पैजनिया से तेरे पाओं की पैजनिया से बलिहार राघव

जी बलिहार राघव जी तेरी मंद मंद मुस्कनिया के बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव [संगीत] जी तेरी चाल अजब मत वाली लगती है प्यारी प्यारी तेरी चाल अजब मत वाली लगती है प्यारी प्यारी तेरी चाल अजब मत वाली लगती है प्यारी

प्यारी चाल अजब मत वाली लगती है प्यारी प्यारी तेरे पायल की झनकार पे तेरे पायल की झनकार पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी म ंद मुस कनिया के बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी [संगीत] तेरे संग में सिया

सुकुमारी लगती है प्यारी प्यारी रे संग मसीह सुकुमारी लगती है प्यारी प्यारी तेरे संग में सिया सुकुमारी लगती है प्यारी प्यारी रे संग मसीह सुमारी लगती है प्यारी प्यारी इस युगल जोड़ी पर जाऊं मैं इस युगल जोड़ी पर जाऊं मैं बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी तेरी मंद

मंद मुस कनिया पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव [संगीत] [हंसी] [संगीत] जी [संगीत] रघुपति राघव राजा राम पतित पावन [प्रशंसा] सीताराम रघुपति राघव राजाराम पतित पावन सीता सराम सीताराम सीताराम सीताराम सीताराम भज प्यारे दू सीताराम ईश्वर अल्लाह है तेरो

नाम सबको सन्मति दे भगवान ईश्वर अल्लाह तेरो ना सबको सन्मत दे भगवान रघुपति राघव राजा राम पतित पावन सीताराम सीताराम सीताराम भज प्यारे तू सीताराम सीताराम सीताराम भज प्यारे तू [संगीत] सीताराम रघुपति राघव राजारा पतित पावन सीता रघुपति राघव राजा राम पतित पावन सीताराम सीताराम सीताराम सीताराम सीताराम भज प्यारे तू

सीताराम रात को निंदिया दिन को का कभी भजो प्रभु का नाम रात को निंदिया दिन को गा कभी भजो प्रभु का नाम करते रहिए अपने का लेते रहिए हरि का सीताराम सीताराम भज प्यारे तू सीताराम सीताराम सीताराम भज प्यारे तू [संगीत] सीताराम [संगीत] रघुपति राघव राजा रा पतित पावन [प्रशंसा] सीताराम रघुपति राघव

राजाराम पतित पावन सीता सराम सीताराम सीताराम सीताराम सीताराम भज प्यारे दू सीताराम ईश्वर अल्ला है तेरो नाम सबको सन्मति दे भगवान ईश्वर अल्लाह ते ना सबको सन्मत दे भगवान रघुपति राघव राजा राम पतित पावन सीताराम सीताराम सीताराम भज प्यारे तू सीताराम सीताराम सीताराम भज प्यारे तू [संगीत] सीताराम रघुपति राघव राज जाराम पतित

पावन [प्रशंसा] सीताराम रघुपति राघव राजा राम पतित पावन सीताराम सीताराम सीताराम सीताराम सीताराम भज प्यारे तू ताराम ईश्वर अल्लाह तेरो नाम सबको सन्मति दे भगवान ईश्वर अल्ला तेरो नाम सबको सन्मत दे भगवान रघुपति राघव रा जाराम पतित पावन सीताराम सीताराम सीताराम भज प्यारे तू सीताराम सीताराम सीताराम भज प्यारे तू सीताराम रघुपति

राघव राज राम पतित पावन शी सीताराम रघुपति राघव राजा राम पतित पावन [प्रशंसा] [संगीत] सीताराम [संगीत] एक बार जो एक बार जो रघुवर की नजरों का इशारा हो जाए एक बार जो घबर की नजरों का इशारा हो जाए तेरी लगन में खो जाऊं मैं तेरी लगन में खो जाऊं दुनिया से किनारा हो

जाए एक बार र जो रघुवर की नजरों का इशारा हो जाए श्री राम जय राम जय राम राजा राम श्री राम जय राम जय राम राजा [संगीत] राम [संगीत] [प्रशंसा] [संगीत] [प्रशंसा] [संगीत] [प्रशंसा] [संगीत] श्री राम तुम्हारे चरणों में आशीष सभी को मिलती है जय राम जय राम जय राम राजा राम

श्री राम तुम्हारे चरणों में आशीष सभी को मिलती है यह धूल तुम्हारी मिल जाए यह धू फल तुम्हारे मिल जाए जीवन का सहारा हो जाए तेरी लगन में खो जाऊं मैं तेरी लगन में खो जाऊं दुनिया से किनारा हो जाए एक बार जो रघुवर की नजरों का इशारा हो

जाए श्री राम जय राम जय राम राजा राम श्री राम जय राम जय राम राजा राम [संगीत] सरकार तुम्हारी महफिल में तकदीर र बनाई जाती है जय राम जय राम जय राम राजा राम सरकार तुम्हारी महफिल में तकदीर बनाई जाती है मेरी भी बिगड़ी बन जाए मेरी भी बिगड़ी बन जाए एहसान

तुम्हारा हो जाए तेरी लगन में खो जाऊं मैं तेरी लगन में खो जाऊं दुनिया से किनारा हो जाए एक बार जो रघुवर की नजरों का इशारा हो जाए श्री राम जय राम जय राम राजा राम श्री राम जय राम जय राम राजा राम [संगीत] [प्रशंसा] [संगीत] [प्रशंसा] [संगीत] [प्रशंसा] [संगीत]

ये श्री राम का मंदिर है [संगीत] भागीरथ गंगा बहती है जय राम जय राम जय राम राजा राम ये श्री राम का मंदिर है भागीरथ गंगा बहती है सब लोग यहां पे तरते हैं सब लोग यहां पे तरते हैं भव पार सभी का हो जाए तेरी लगन में खो जाऊं मैं तेरी लगन

में खो जाऊं दुनिया से किनारा हो जाए एक बार जो रघुवर की नजरों का इशारा हो जाए श्री रामय राम जय राम राजा राम श्री राम जय राम श्री राम [संगीत] आरती कीज श्री रघुवर जी की सत चित आनंद शिव सुंदर की आरती की जय श्री रघुवर

जी की सत चित आनंद शिव सुंदर की आरती की जय श्री रघुवर जी [संगीत] [हंसी] [संगीत] की [संगीत] कौशल्या सुत दशरथ नंदन कौशल्या सुत दशरथ नंदन सुर मुनि रक्षक दैत्य निकंदन सुर मुनि रक्षक दैत्य निकंदन अनुग भक्त भक्त पुर छंद [संगीत] मर्यादा पुरुषोत्तम वर की आरती की ज श्री रघुवर जी [संगीत] [हंसी]

[संगीत] की निर्गुण सगुण अरूप रूपने दे निर्गुण सगुण अरूप रूप निधि सकल लोक वंदित विभिन विधि सकल लोक वंत विभिन विधि हरण शोक भय दायक सब सिधि माया रहित देव्य नरवर की आरती की जय श्री रघुवर जी की [संगीत] [हंसी] [संगीत] जानकी पति सुर अधिपति जगपति जान की पति सुर अधिपति

जगपति अखिल लोक पालक त्रिलोक गति अखिल लोक पालक त्रिलोक गति विश्व वंध अवना अमित मति एकमात्र गति सच रा चर की आरती की ज श्री रघुवर [संगीत] की शरणागत वत्सल व्रत धारी शरणागत वत्सल व्रत धारी भक्त कल्पतरू व असुरारी भक्त कल्प तरुवर असुरारी नाम लेत जग पावन

कारी वानर सखा दीन दुख हर की आरती की जय श्री रघुवर जी की सत चित आनंद शिव सुंदर की आरत की जय श्री रघुवर जी [संगीत] [प्रशंसा] [संगीत] की मेरी झोपड़ी के भाग आज खुल जाएंगे राम आएंगे मेरे झोपड़ी के भाग आज खुल जाएंगे राम आएंगे राम आएंगे आएंगे राम

आएंगे राम आएंगे आएंगे राम आएंगे मेरी झोपड़ी के भाग आज खुल जाए े रा आएंगे मेरी झोपड़ी के भाग आज खुले जाएंगे राम [संगीत] आएंगे [संगीत] राम आएंगे तो अंगना सजाऊंगी राहा आएंगे तो अंगना सजाऊंगी देव जला के दिवाली मैं मनाऊंगी दीप जला के दिवाली मैं मनाऊंगी मेरे जन्मों के सारे पाप मिट

जाएंगे राम आएंगे मेरी झोपड़ी के भाग आज खुल जाएंगे राम आएंगे मेरी झोपड़ी के भाग आज भूले जाएंगे राम [संगीत] आएंगे [संगीत] राम झूलेंगे तो पलना झुलाऊंगा झूलेंगे तो पलना झुलाऊ मीठे मीठे मैं भजन सुनाऊंगा मीठे मीठे मैं भजन सुनाऊ मेरी जिंदगी के सारे दुख मिट जाएंगे

रामाय दे मेरी झोपड़ी के भाग आज जाग जाएंगे राम आएंगे मेरी झोपड़ी के भाग आज खुले जाएंगे राम आएंगे [संगीत] मैं तो रोची रूच भोग लगाऊंगी मैं तो रुची रूच भग लगाऊंगी माखन में शरी मैं राम को खिलाऊंगी माखन विशरी मैदान को खिलाऊंगी प्यारी प्यारी राधे प्यारे श्याम संग आएंगे राम

आएंगे राधी झोपड़ी के भाग आज ूल जाएंगे राम आएंगे मेरी झोपड़ी के भाग आज खुले जाएंगे राम [संगीत] आएंगे मेरा जन्म सफल हो जाएगा मेरा जन्म सफल हो जाएगा मन झूमेगा तन गीत गाएगा तन झूमेगा और मन गीत गाएगा श्याम सुंद मेरी किस्मत चमकाए रामा मेरी झोपड़ी के भाग आज जाग जाएंगे रा

आएंगे मेरी झोपड़ी के भाग आज ले जाएंगे राम [संगीत] [प्रशंसा] [संगीत] आएंगे [संगीत] तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी तेरी मंद मंद मुस कनिया के बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी तेरी मंद मंद मुस्कनिया

पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव [संगीत] जी तेरे नैन बड़े गजरारे लगते हैं प्यारे प्यारे तेरी नैन बड़े गजरारे लगते हैं प्यारे प्यारे तेरे नैन बड़े कजरारे लगते हैं प्यारे प्यारे रे नैन बड़े कजरारे लगते हैं प्यारे प्यारे तेरी मधुर मधुर मुस्कनिया पे तेरी मधुर मधुर मुस्कनिया पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव

जी तेरी मंद मंद मुस कनिया के बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे बलिहार राघव जी बलिहार राघ [संगीत] जी तेरे बाल बड़े घुंघराले बादल हो कारे कारे तेरे बाल बड़े घुंघराले बादल हो का कारे का तेरे बाल बड़े घुंघराले बादल हो कारे कारे बाल कड़े

राले बादल हो कारे कारे तेरे पाव की पैजनिया से तेरे पांव की पैजनिया से बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी तेरी मंद मंद मुस्कनिया के बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव [संगीत] जी [प्रशंसा] तेरी चाल अजब मत वाली लगती है प्यारी

प्यारी री चाल अजब मत वाली लगती है प्यारी प्यारी तेरी चाल अजब मत वाली लगती है प्यारी प्यारी री चाल है जगमत वाली लगती है प्यारी प्यारी तेरे पायल की झनकार पे तेरे पायल की झनकार पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी तेरी मंद मंद मुस कनिया के

बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव [संगीत] जी तेरे संग में सिया सुकुमारी लगती है प्यारी प्यारी तेरे संग मसीह सुमारी लगती है प्यारी प्यारी तेरे संग में सिया सुकुमारी लगती है प्यारी प्यारी रे सज मसीह सुख मरी लगती है प्यारी प्यारी इस

युगल जोड़ी पर जाऊं मैं इस युगल जोड़ी पर जाऊं मैं बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी ते मंद मंद मुस कनिया के बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी तेरी मंद मंद मुस्कनिया पे बलिहार राघव जी बलिहार राघव जी जरा देर ठहरो [संगीत] राम जरा देर ठहरो राम जरा देर ठहरो राम तमन्ना यही

है अभी हमने जी भर के देखा नहीं है अभी हमने जी भर के देखा नहीं है जरा देर ठहरो रा तमन्ना यही है अभी हमने जी भर के देखा नहीं है अभी हमने जी भर के देखा नहीं [संगीत] है कैसी घड़ी आज जीवन की आई कैसी घड़ी आज जीवन की

आई अपने ही प्राणों की करते विदाई अपने ही प्राणों की करते विदाई अब यह अयोध्या अब ये अयोध्या हमारी नहीं है अभी हमने जी भर के देखा नहीं है अभी हमने जी भर के देखा नहीं [संगीत] है माता कौशल के आंखों के तारे माता कौशल्या के आखों के रे दशरथ जी के राज

दुलारे दशरथ जी के राज दुलारे कभी ये अयोध्या को कभी ये अयोध्या को भुलाना नहीं है अभी हमने जी भर के देखा नहीं है अभी हमने जी भर के देखा नहीं [संगीत] है जाओ प्रभु अब समय हो रहा है जाओ प्रभु अब समय हो रहा है घरों का उजाला भी कम हो

रहा है घरो का उजाला भी कम हो रहा है अंधेरी निशा का अंधेरी निशा का ठिकाना नहीं है अभी हमने जी भर के देखा नहीं है अभी हमने जी भर के #Stop #Shri #Ram #Bhajans #Ram #Aayenge #Angana #Sajaungi #Bhakti #Song #Ram #Songs #Ram #Bhajans
Bhakti Dhun More From Bhakti.Lyrics-in-Hindi.com

Leave a Comment