Nonstop Vishnu Ji Ke Bhajan नॉनस्टॉप विष्णु जी के भजन | Ekadashi Bhajan | Vishnu Ji Ke Bhajan

Nonstop Vishnu Ji Ke Bhajan नॉनस्टॉप विष्णु जी के भजन | Ekadashi Bhajan | Vishnu Ji Ke Bhajan Bhakti Sadhna भक्ति साधना


Nonstop Vishnu Ji Ke Bhajan नॉनस्टॉप विष्णु जी के भजन | Ekadashi Bhajan | Vishnu Ji Ke Bhajan

तो आईए आज पावन हृदय से इस भजन द्वारा जो मांगना है मांग लीजिए।
श्याम बाबा सबकी मनोकामनांए पूर्ण करें। 🙏

⭐Song : पता नहीं किस रूप में आ कर नारायण मिल जाएगा
हरि नाम की माला जप ले
ॐ जय लक्ष्मी रमणा
रचा है सृष्टि को जिस प्रभु ने
जो हुकुम सरकार का
प्रभु कैसा खेल रचाया है
हरि नाम न ह्रदय से भूलों
मन के मंदिर में प्रभु को बसाना
तेरी चौखट पे आना मेरा काम है
ॐ जय जगदीश हरे (आरती)

⭐Singer : Maya Goswami & Upasana Mehta
⭐Lyrics : Archana Agarwa & Sachin Tulsiyan &Traditional
⭐Music: Binny Narang (9991980610)
⭐Video: Shalini Sharma (7015960610)
⭐Label Bhakti Sadhna (9466651081)
⭐Category: Hindi Devotional (Shyam Bhajan)
भक्ति साधना कंपनी से भजन बनवाने के लिए और भजन रिलीज़ करवाने के लिए संपर्क करे 9466651081

—————————————————————————————————————————————–
🎧 Listen On Streaming Sites

🎵Gaana
🎵JioSaawan
🎵 Spotify
🎵Hungama
🎵Wynk
🎵iTunes –
🎵Hungama-
—————————————————————————————————————————————–
▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️Lyrics✍️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️

▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️▪️

Enjoy & stay connected with us!
👉 Subscribe to
👉 Like us on Facebook
👉 Follow us on Instagram:
#vishnubhajan #nonstopvishnubhajan #vishnu #krishna #shiva #hinduism #hindu #harekrishna #india #bhagavadgita #hanuman #god #radhakrishna #ram #lordkrishna #vrindavan #mahadev #iskcon #radheradhe #love #bhakti #narayan #haribol #mahabharat #spirituality #lakshmi #ramayana #radhekrishna #lordvishnu #kanha #hindugod #radharani

➤ यहाँ आपको कृष्णा भजन, लाइव श्रीमद भागवत कथा, भगवान कृष्ण, के द्वारा बताये गयी सनातन धर्म की कुछ महत्वपूर्ण जानकारी को प्राप्त कर सकते है
bhajans in hindi [संगीत] मौला [संगीत] [संगीत] राम का दर्शन पाएगा निर्मल मां के दर्पण में वह राम का दर्शन पाएगा राम नाम के साबुन से जो मां का महल छुड़ाएगा निर्मल मां के दर्पण में वह राम का दर्शन पाएगा निर्मल राम का दर्शन पाएगा राम नाम के साबुन से [संगीत] [संगीत] [संगीत] [संगीत]

हर प्राणी से प्यार करो घर पर आए अतिथि कोई तो यथाशक्ति सत्कार करो [संगीत] हर प्राणी से प्यार करो घर पर आए अतिथि कोई तो यथाशक्ति सत्कार करो पता नहीं किस रूप में आकर पता नहीं किस रूप में आकर नारायण मिल जाएगा निर्मल मां के दर्पण में वह राम का दर्शन

पाएगा राम नाम के साबुन से जो मां का मैं छुड़ाएगा निर्मल मां के दर्पण में बाहर राम का दर्शन पाएगा राम नाम के साबुन से [संगीत] नर्सरी पाया है क्यों प्रभु को मिश्रय है नर्सरी नर्सरी अनमोल प्राणी प्रभु के पास पाया है झूठ जग प्रपंच में पढ़कर क्यों प्रभु

इसराय है समय हाथ से निकाल गया तो मुझे कल गया तो सर धुन धुन पछताएंगे निर्मल मां के दर्पण में वह राम का दर्शन पाएगा राम नाम के साबुन से जो मां का मैं छुड़ाएगा निर्मल मां के दर्पण में बाहर राम का दर्शन पाएगा राम नाम के साबुन से [संगीत] [संगीत] [संगीत]

धनतेरा कच्छ है जब तक प्रभु विश्वास नहीं मंजिल कर पन है क्या जब दीपक में प्रकाश नहीं निश्चय है तो भाव सागर से [संगीत] निश्चय है तो भाव सागर से बेड़ा पर हो जाएगा निर्मल मां के दर्पण में बाहर राम का दर्शन की वह राम का दर्शन पाएगा राम नाम के सावन से

[संगीत] दौलत का भी मां है झूठ यह तो आनी जानी है राजा रंग ने तो हुए कितनो की सनी कहानी है दौलत का अभिमान है झूठ यह टोनी जानी है राजा रंग हुए कितनो की सनी कहानी है राम नाम प्रिया महामंत्र ही राम नाम प्रिया महामंत्र ही साथ तुम्हारी जाएगा

निर्मल मां के दर्पण में वह राम का दर्शन पाएगा राम नाम के साबुन से जो मां को मैं छुड़ाएगा मेरा मां मां के दर्पण में बाहर राम का दर्शन पाएगा राम नाम के साबुन से [संगीत] ए हरि नाम की माला जाप ले हरि नाम की माला जाप ले पालकी खबर नहीं खबर नहीं

बल्कि खबर नहीं खबर नहीं अंदर घाट मां को मत ले अंतर घाट मां को मैथिली पालकी खबर नहीं खबर नहीं बल्कि खबर नहीं हरि नाम की माला जाप ले पालकी खबर नहीं खबर नहीं [संगीत] ए [संगीत] [संगीत] नाम बिना यह तेरा जीवन अधूरा है [संगीत] तेरा जीवन अधूरा है

ना बिना होता नहीं पूरा है तेरी बेटी उमरिया तारी तेरी बेटी उमरिया साड़ी पालकी खबर नहीं पालकी खबर नहीं बल्कि खबर नहीं तो पालकी खबर नहीं हर नाम की माला जाप ले हरि नाम की माला जाप ले पालकी खबर नहीं पालकी खबर नहीं बल्कि खबर नहीं पालकी खबर नहीं [संगीत] [संगीत] [संगीत]

रिश्तेदार सारे यहां मतलब की यार है और झूठ संसार है प्रभु नाम मत प्रीत लगा ले प्रभु नाम से प्रीत लगा ले बल्कि खबर नहीं पालकी खबर नहीं बल्कि खबर नहीं तो पालकी खबर नहीं हर नाम की माला जाप ले हरि नाम की माला जाप ले पालकी खबर नहीं खबर नहीं

बल्कि खबर नहीं खबर नहीं [संगीत] ए [संगीत] पुकार करें जो सच्चा इंसान है नाम प्याला जिसने पिया ओ महान है [संगीत] मैया हां जश्ने पिया वो महान है उसकी सतगुरु कर रखवाली रखवाली बल्कि खबर नहीं वो पालकी खबर नहीं बल्कि खबर नहीं पालकी खबर नहीं

हर नाम की माला जाप ले हरि नाम की माला जाप ले पालकी खबर नहीं पालकी खबर नहीं बल्कि खबर नहीं पालकी खबर नहीं [संगीत] बनाया [संगीत] [संगीत] [संगीत] कितना प्यार तन ये तेरा प्रभु ने बनाया है [संगीत] ए नाम को बुलाया है गुरु शरण ना भूल सुधरे गुरु शरण अब

ओपल की खबर नहीं पालकी खबर नहीं बल्कि खबर नहीं तो पालकी खबर नहीं हर नाम की माला जाप ले हरि नाम की माला जाप ले पालकी खबर नहीं बल्कि खबर नहीं बल्कि खबर नहीं खबर नहीं [संगीत] मौला [संगीत] बेकार है मिलन के द्वारा है [संगीत] कर्मकांड सारे बिना नाम के बेकार है [संगीत]

प्रभु मिलन के द्वारा है हर नाम को तू अपना ले हरि नाम को तो अपना ले बल्कि खबर नहीं पालकी खबर नहीं बल्कि खबर नहीं तो पालकी खबर नहीं हर नाम की माला जाप ले हरि नाम की माला जाप ले पालकी खबर नहीं खबर नहीं बल्कि खबर नहीं खबर नहीं [संगीत] [संगीत]

स्वामी जय लक्ष्मी रमन सत्यनारायण स्वामी सत्यनारायण स्वामी जन्म पत्र हरण ओम जय लक्ष्मी रमन [संगीत] जड़ित सिंह अद्भुत छबिराजे स्वामी अद्भुत छबिराजे [संगीत] नारद करात निरंजन नारद करात निरंजन घंटा ध्वनि बाजी ओम जय लक्ष्मी रामना [संगीत] [संगीत] स्वामी [संगीत] ब्राह्मण बनकर कंचन महल की और ओम जय लक्ष्मी रमन [प्रशंसा] ए दुर्बल कटहलु

[संगीत] ओम जय लक्ष्मी रमन [प्रशंसा] [संगीत] वैश्य मनोरथ पे [संगीत] [संगीत] [संगीत] ओम जय लक्ष्मी रमन [प्रशंसा] [संगीत] रूप धरो आप धरो राधा रानी [संगीत] ओम जय लक्ष्मी रमन मौला [संगीत] कारी मां वंचित फल बिना मां वंचित फल दिन दिन दयालु हरि ओम जय लक्ष्मी रमन [प्रशंसा] प्रसाद सवाया [संगीत]

धूप दीप तुलसी से धूप दीप तुलसी सिराजी सत्य देव ओम जय लक्ष्मी रमन [प्रशंसा] लक्ष्मी रामायण जी की आरती [संगीत] रिद्धि सिद्धि सुख संपत्ति जी भर के पाप ओम जय लक्ष्मी रमन ओम जय लक्ष्मी रमन स्वामी जय लक्ष्मी रमन सत्यनारायण स्वामी सत्यनारायण स्वामी जन्म पत्र हरण ओम जय लक्ष्मी रमन [संगीत] [संगीत] रहे

[संगीत] लगाया पहले जो बिन हमने लगाया पहले इस का फल हम अब का रहे हैं रचा है सृष्टि को जी प्रभु में वही सृष्टि चला रहे हैं वही सृष्टि जल रहे हैं [संगीत] [संगीत] तुम यही धारा का है सत्यनी यूं यही धारा का एक ए रहे हैं हिट जा रही है

राजा श्रेष्ठ को जी प्रभु ने वही सृष्टि चला रहे हैं वही सृष्टि जल रहे हैं [संगीत] [संगीत] [संगीत] जो भेजना वाले हैं यहां पे वही तो वापस बुला रहे हैं रचा है सृष्टि को जी प्रभु ने वही सृष्टि चला रहे हैं वही सृष्टि चला रहे हैं [संगीत] [संगीत]

बैठे हैं जो धन की बोलियां में हमारी मेहंदी की ललियां में बैठी है जो धन की बोलियां में समय मेहंदी की ललियों में हर दाल हर पापी में सम कर डाला हर बात काम कर गुल रंग मेरा होंगे मिला रहे हैं रचा है सृष्टि को जी प्रभु ने वही सृष्टि

चला रहे हैं जो पेड़ हमने लगाया पहले जो पेड़ हमने लगाया पहले इस का फल हम हम का रहे हैं रचा है सृष्टि को जी प्रभु ने वही सृष्टि चला रहे हैं वही सृष्टि चला रहे हैं [संगीत] [संगीत] [संगीत] [संगीत] [संगीत] साड़ी दुनिया जान गई मैं [संगीत]

जान गई मैं नौकर हूं दरबार का साड़ी दुनिया जान गई मैं नौकर हूं दरबार का हमने भी अब सोच लिया है जो हुकुम सरकार का हमने भी सोच लिया है जो हुकुम सरकार का जो हुकुम सरकार का साड़ी दुनिया जान गई मैं नौकर हूं दरबार का हमने सोच लिया है जो

हुकुम सरकार का हमने भी अब सोच लिया है जो हुकुम सरकार का जो हुकुम सरकार का [संगीत] [संगीत] [संगीत] [संगीत] सब कुछ [संगीत] जो कुछ मेरे पास सब कुछ दिया हुआ डाटा रिका हो हुकुम सरकार का जो हुकुम सरकार का [संगीत] मलिक मिले कहां तू साड़ी दुखड़े दूर करें ऐसा मलिक दूर करें

कैसा मलिक मिले कहां जो सारे दुख दे दूर करें ऐसा मलिक मिले कहां जो सारे टुकड़े दूर करें सेवा थोड़ी करो या ज्यादा नहीं मुझे मजबूर करें सेवा थोड़ी करो दादा नहीं मुझे मजबूर करें हाथों हाथ मिले तन पाया [संगीत] कम नहीं उधर का हमने भी अब सोच लिया है जो

हुकुम सरकार का जो हुकुम सरकार का [संगीत] दुखी मांगू इस मलिक से नहीं मुझे इनकार करें जो भी मैंगो इस्तेमाल से नहीं पर करें जितना मां बेटे को करती इतना मुझको प्यार करें [संगीत] धोखे मैंगो इस मलिक से नहीं मुझे इनकार करें जो भी मांगू इस मलिक से नहीं मुझे इनकार

करना बेटे को करती उतना मुझको प्यार करें जितना मां बेटे को करती उतना मुझको प्यार करें बनवारी खुश राहत हूं मैं [संगीत] बनवारी खुश राहत हूं मैं पाखी खजाना प्यार का जी अब सोच लिया है जो हुकुम सरकार का जो हुकुम सरकार का साड़ी दुनिया जान गई मैं नौकर हूं दरवाजा

हमने अब सोच लिया है जो हुकुम सरकार का हमने ही अब सोच लिया है जो हुकुम सरकार का जो हुकुम सरकार का [संगीत] प्रभु के साथ खेल रचाया है पर मेरे समझ नहीं आया है पर मेरी समझ नहीं आया है प्रभु कैसा खेल रचाया है प्रभु कैसा खेल

रचाया है पर मेरी समझ नहीं आया है [संगीत] मिट्टी कहां से लाया है तितली नीचे पता ले बनाया यह मिट्टी कहां से लाया है ये यहां से लाया प्रभु के साथ खेल रचाया है प्रभु कैसा खेलचाया है पर मेरी समझ नहीं आया है प्रभु कैसा खेल रचाया है पर मेरी समझ नहीं आया

है प्रभु कैसा खेल रचाया है प्रभु कैसा खेल रचाया है पर मेरी समझ नहीं आया है प्रभु कैसा खेल रचाया है पर मेरी समझ नहीं आया है [संगीत] भांति भांति के पेड़ बनाए ये बी कहां से लाया है यहां से लाया है प्रभु कैसा खेल रचाया है प्रभु कैसा खेल

रचाया है पर मेरी समझ नहीं आया है प्रभु कैसा खेल रचाया है पर मेरे समझ नहीं आया है प्रभु कैसा खेल रचाया है प्रभु कैसा खेल रचाया है पर मेरी समझ नहीं आया है प्रभु कैसा खेल रचाया है पर मेरी समझ नहीं आया है [संगीत]

तूने रंग बिरंगी फूल मिला है यह रंग कहां से लाया है लिंग कहां से लाया है प्रभु कैसा खीर छाया है पर मेरी समझ नहीं आया है प्रभु कैसा खेल रचाया है पर मेरी समझ नहीं आया है प्रभु कैसा खेल रचाया है प्रभु कैसा खेल रचाया है पर मेरी समझ नहीं

आया है प्रभु के साथ मेरे समझ नहीं आया है [संगीत] आवाज कहां से लाया है कितने तरह के पशुपक्षी बनाए ये आवाज कहां से लाया है यह आवाज कहां से लाया है प्रभु कैसा खेल रचाया है पर मेरी समझ नहीं आया है प्रभु कैसा खेल रचाया है पर मेरी

समझ नहीं आया है प्रभु कैसा खेल रचाया है प्रभु कैसा खेल रचाया है पर मेरी समझ नहीं आया है प्रभु कैसा खेल रचाया है पर मेरे समझ नहीं आया है [संगीत] मनुष्य बनाए ये सांचा कहां से लाया है यह सांचा कहां से लाया है प्रभु कैसा खेल रचाया है प्रभु कैसा खेल

रे छाया है पर मेरी समझ नहीं आया है प्रभु कैसा खेल रचाया है पर मेरे समझ नहीं आया है प्रभु कैसा खेल रचाया है प्रभु कैसा खेल रचाया है पर मेरी समझ नहीं आया है प्रभु के साथ आया है पर मेरी समझ नहीं आया है प्रभु के साथ मेरे समझ नहीं आया है

[संगीत] ए हरि नाम की माला जाप ले हरि नाम की माला जाप ले पालकी खबर नहीं खबर नहीं बल्कि खबर नहीं खबर नहीं अंदर घाट मां को मत ले अंतर घाट मां को मत ले पान की खबर नहीं खबर नहीं बल्कि खबर नहीं खबर नहीं

हरि नाम की माला जाप ले पालकी खबर नहीं खबर नहीं [संगीत] ए [संगीत] नाम बिना यह तेरा जीवन अधूरा है घटक मिला होता नहीं पूरा है [संगीत] तेरा जीवन अधूरा है ना बिना होता नहीं पूरा है तेरी बेटी उमरिया तारी तेरी बेटी उमरिया साड़ी बल्कि खबर नहीं बल्कि खबर नहीं बल्कि खबर नहीं

तो पालकी खबर नहीं हर नाम की माला जाप ले हरि नाम की माला जाप ले पालकी खबर नहीं पालकी खबर नहीं बल्कि खबर नहीं खबर नहीं [संगीत] [संगीत] [संगीत] रिश्तेदार सारे यहां मतलब की यार है तो झूठ संसार है प्रभु नाम से प्रीत लगा ले प्रभु नाम से प्रीत लगा ले बल्कि खबर

नहीं पालकी खबर नहीं बल्कि खबर नहीं तो पालकी खबर नहीं हर नाम की माला जाप ले हरि नाम की माला जाप ले पालकी खबर नहीं खबर नहीं बल्कि खबर नहीं खबर नहीं [संगीत] मौला [संगीत] जिसने पिया हो महान है [संगीत] पर उपकार करें जो सच्चा इंसान है

जिसने पिया वो महान है उसकी सतगुरु कर रखवाली रखवाली बल्कि खबर नहीं वो पालकी खबर नहीं बल्कि खबर नहीं पालकी खबर नहीं हर नाम की माला जाप ले हरि नाम की माला जाप ले पालकी खबर नहीं पालकी खबर नहीं बल्कि खबर नहीं पालकी खबर नहीं [संगीत] [संगीत] तेरा प्रभु ने बनाया है [संगीत]

कितना प्यार तन ये तेरा प्रभु ने बनाया है [संगीत] इनाम को बुलाया है गुरु शरण ना भूल तू धारी गुरु शरण्या भूल सुनहरी पालकी खबर नहीं पालकी खबर नहीं बल्कि खबर नहीं तो पालकी खबर नहीं हर नाम की माला जाप ले हरि नाम की माला जाप ले पालकी खबर नहीं बल्कि खबर नहीं

बल्कि खबर नहीं खबर नहीं [संगीत] ए ए [संगीत] व है [संगीत] [संगीत] तो प्रभु मिलन केदार है हर नाम को तू अपना ले हरि नाम को तो अपना ले पालकी खबर नहीं पालकी खबर नहीं बल्कि खबर नहीं पालकी खबर नहीं हर नाम की माला जाप ले हरि नाम की माला

जाप ले पालकी खबर नहीं पालकी खबर नहीं बल्कि खबर नहीं पालकी खबर नहीं [संगीत] ए मां की मंदिर में प्रभु को बसना मां की मंदिर में प्रभु को बसना बात हर एक की बस्ती नहीं है मां की मंदिर में प्रभु को बसना बात हर एक की बस की नहीं है

खेलने पड़ता है जिंदगी से मिलन पड़ता है जिंदगी से भक्ति इतनी शक्ति नहीं है मां की मंदिर में प्रभु को बसना मां की मंदिर में प्रभु को बसना बात हर एक की बस्ती नहीं है [संगीत] प्रेम मीरा ने मोहन से डाला ना प्रणाम जब तलाक ममता है जिंदगी से जब तलाक ममता

है जिंदगी से उसकी रहमत बरसाती नहीं है मां की मंदिर में प्रभु को बसना बात हर की नहीं [संगीत] [संगीत] पवन प्रभु के बराबर पतित पवन प्रभु के बराबर कोई दुनिया में हस्ती नहीं है मां के मंदिर में प्रभु को बसना बात हर एक की बस्ती नहीं है [संगीत] [संगीत]

कहते हैं नागिन है माया सर जगत कैट खाया कृष्णा का नाम है जिसके मां में कृष्णा का नाम है जिसकी मां में [संगीत] बस्ती नहीं है मां के मंदिर में प्रभु को [संगीत] बसाई खेलने पड़ता है जिंदगी से खेलने पड़ता है जिंदगी से भक्ति इतनी

शक्ति नहीं है मां की मंदिर में प्रभु को बसना मां की मंदिर में प्रभु को बसना बात हर एक की बस्ती नहीं है [संगीत] [संगीत] मौला तेरी चौखट पे आना मेरा कम है तेरी चौखट पे आना मेरा कम है मेरी बिगड़ी बना तेरा कम है तेरी चौखट पे आना मेरा कम

है मेरे बिगड़ी बनाना तेरा कम हर घर छोड़ कर तेरे डर ए गए सारे भर छोड़ कर तेरे डर ए गया अब गले से लगाना तेरा कम है तेरी चौखट पे आना मेरा कम है तेरी चौखट पे आना मेरा कम है [संगीत] पिया तेरे बिन कोई सुनता ना मेरी यहां

का मुझको पीला साथियां तेरे बिन कोई सुनता ना मेरी यहां छोड़ दी मैंने कश्ती तेरे नाम पर छोड़ भी मैंने कश्ती तेरी नाम पर अब की ना रे पे आना मेरा कम है मेरी बिगड़ी बनाना तेरा कम है [संगीत] [संगीत] तेरी चौखट पे आना मैक एम बिक्री बनाना तेरा कम है [संगीत]

तुझको बहुत कुछ दिया मैंने चरणों में सर को झुका ही दिया मुझको हृदय लगाना तेरा कम है मुझको ही देने लगाना तेरा कम है दाल भक्ति का देना तेरा कम है तेरी चौखट पे आना मेरा कम है मेरी बिगड़ी बनाना तेरा कम है सारे भर छोड़ कर तेरे डर

ए गए सारे भर छोड़ कर तेरे डर ए गया अब गले से लगाना तेरा कम है तेरी चौखट पे आना मेरा कम है तेरी चौखट पे आना मेरा कम है मेरी बिगड़ी बनाना तेरा कम है [संगीत] ए [संगीत] जगदीश हरे [प्रशंसा] [संगीत] [संगीत] ओम जय जगदीश हरे [संगीत] [प्रशंसा] [संगीत]

सुख संपत भर आवे सुख संपत घर आवे कष्ट माइट तन का खून जय जगदीश हरे मान पिता तुम मेरे [प्रशंसा] शरण गांव में किसकी स्वामी शरण गांव में किसकी [प्रशंसा] [संगीत] [प्रशंसा] बात करूं मैं जिसकी जय जगदीश हरे [प्रशंसा] तुम पूर्ण परमात्मा [संगीत] तुम अंतर्यामी स्वामी तुम अंतर्यामी परमिश वर्मा

परमेश्वर तुम सबके स्वामी ओम जय जगदीश हरे [संगीत] [प्रशंसा] ओम जय जगदीश हरे [प्रशंसा] तुम हो एक आजु कर सबके प्राण पति स्वामी सबके प्राण पति [प्रशंसा] किस विधि मिलो गोसाई किस विधि मिलो मेरे डाटा तुमको मैं घूमती ओम जय जगदीश हरे [प्रशंसा] [संगीत] दीनबंधु दुखहर्ता तुम उठाकर मेरे स्वामी तुम रक्षक मेरे

अपने हाथ उठाऊं अपनी शरण लगाओ द्वारा पड़ा मैं तेरी ओम जय जगदीश हरे [प्रशंसा] [संगीत] [संगीत] ओम जय जगदीश हरे [प्रशंसा] तन मां धन सब तेरा स्वामी सब कुछ है तेरा तुझको हर पाल तेरा तुझको हर पाल क्या लगे मेरा ओम जय जगदीश हरे [प्रशंसा] ए श्री जगदीश जी की आरती [प्रशंसा] [प्रशंसा]

शिवानंद स्वामी कहते हरि हर स्वामी सुख संपत्ति पाव ओम जय जगदीश हरे [प्रशंसा] [संगीत] #Nonstop #Vishnu #Bhajan #ननसटप #वषण #ज #क #भजन #Ekadashi #Bhajan #Vishnu #Bhajan
Bhakti Sadhna भक्ति साधना More From Bhakti.Lyrics-in-Hindi.com

Leave a Comment